Mahatma Gandhi Thought about devlopement

महात्मा गांधी अपने शुरुआती दिनों से ही स्वतंत्रता को समानता से जुड़ा हुआ बताया करते थे। येही कारण था की उनका मन्ना था की किसी भी देश की आर्थिक स्वंतंत्रता के लिया उसके सबसे निचले तब्के पैर ध्यान देना आवश्यक है। इस वजह से गाँधी जी भारत में ग्रामीण क्षेत्र के विकास को मेहत्त्वपूर्ण बतया करते थे।